Motivation Story In Hindi | अकल बड़ी या मेहनत Moral Khani

Motivation Story In Hindi | अकल बड़ी या मेहनत आज की यह कहानी है दो दोस्तों की जो कि साथ में ही अपनी पढ़ाई खत्म करते हैं और एक जगह पर साथ में नौकरी ढूंढते हैं और एक कंपनी में दोनों ही नौकरी लग जाते हैं दोनों लड़के बहुत ज्यादा मेहनत करते हैं और उन्हें काम करते करते 1 साल हो जाता है और 1 साल बाद इन दोनों में से किसी एक ही प्रमोशन होने का समय आ जाता है दोनों लड़के बोलते हैं कि प्रमोशन तो मेरी ही होगी और दोनों को कॉन्फिडेंस है कि हम लोगों ने बहुत मेहनत की है इसीलिए हम दोनों की प्रमोशन होगी लेकिन उनका बोस जब आता है तो वह एक लड़के का ही नाम ले कर चला जाता है

अभी जिस लड़के की प्रमोशन हुई है वह दूसरे लड़के से कहते हैं कि कोई बात नहीं तुम और मेहनत करना और अगले साल तुम्हारी भी प्रमोशन हो जाएगी लेकिन दूसरा लड़का गुस्से मैं बॉस के पास जाता है और उन्हें बोलता है कि मैं आपकी यह नौकरी छोड़ रहा हूं मैंने भी बहुत मेहनत की थी लेकिन आपने प्रमोशन सिर्फ उसे ही दी है ऐसा क्यों किया आपने और लड़का अपने बॉस को बहुत भला बुरा बोलता है और कहता है कि आप सिर्फ उसे ही प्रमोशन बैठे हैं जो आपकी चापलूसी करता है अभी उसका बॉस बड़े शांत स्वभाव से उसकी सभी बातें सुन रहा होता है

वो सिर्फ उस लड़के को जवाब देता है कि मैं तुम्हारी प्रमोशन कर दूंगा और तुम्हारी सैलरी भी दूसरे लड़के से ज्यादा कर दूंगा लेकिन तुम्हें मेरा एक काम करना होगा लड़का बोलता है क्यों क्या मैं आपका काम कर दूंगा तो उसका बहुत बोलता है कि जाओ पता करके आओ की हमारे शहर में आम कितने लोग बेच रहे हैं तो वह लड़का जाता है कुछ समय बाद अपने बॉस के पास आता है और बोलता है कि बॉस शहर में आम एक आदमी ही बेच रहा है अभी बॉस उससे पूछता है कि अभी फिर से उसके पास जाओ और आम के दाम पूछ कर आओ तो वह लड़का दोबारा जाता है और उन आम के दाम पूछ कर आता है और बॉस को बताता है कि ₹50 किलो आम बेच रहा है

Advertisement

अभी बॉस दूसरे लड़के को बुलाता है जिस लड़के की बॉस में प्रमोशन की होती है तो वह उस लड़के को भी यह बोलता है कि जाओ हमारे शहर में कितने आम वाले हैं पता करके आओ वह दूसरा लड़का जाता है और थोड़ी देर में वापस आता है तो उसको बताता है कि हमारे शहर में एक ही आम वाला है और वह 50 रुपए किलो आम बेच रहा है लेकिन अगर हम उसके सारे आम खरीद ले तो वह हमें ₹40 किलो आम लगाएगा उसके पास 60 किलो आम है जिससे हमें ₹600 का फायदा हो जाएगा

यह सब सुनकर दूसरे लड़के की आंखें खुल जाती हैं और वह समझ जाता है कि मुझे प्रमोशन क्यों नहीं मिली |

अकल बड़ी या मेहनत कहानी से हमें यह सीख मिलती है कि अकेला मेहनत करने से कुछ नहीं होता मेहनत के साथ अपना दिमाग भी लगाना होता है और सही ढंग से सोचना होता है कई बार हम लोग मेहनत तो करते हैं लेकिन ज्यादा सोचते नहीं इसीलिए मेहनत के साथ-साथ अपनी अकल का भी इस्तेमाल करें तभी हम लोग अपनी जिंदगी में सक्सेस हो पाएंगे

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *