Anupama 20 July 2020 written update

Anupama

Anupama 20 July 2020 written update ओबामा आज के एपिसोड में आपको दिखाया जाएगा कि समर अपनी मां को लेकर फन फेयर में जाता है और वहां दूसरी तरफ समर के पापा काव्य और अपनी बेटी के साथ वह भी फन फेयर में पार्टिसिपेट करने के लिए जा रहे होते हैं और आप देखते हैं कि समर और उसकी मां पहले वहां पर पहुंच जाते हैं और जब उस फन फेयर में समर की मां लोगों को देखती है तो वह घबरा जाती है और वह समर से कहने लगती है कि तुम्हारी बहन और पापा की की कह रहे थे यह सब कुछ मेरे बस की बात नहीं है लेकिन फिर समर अपनी मां को समझाता है ।

और वह कहता है कि आप के शाइन करने का यही टाइम और आप यह सब कुछ अपनी बेटी और पति के लिए तो कर रही है। इस तरह अनुपमा इस फन फेयर के लिए मान जाती है और वह अपने स्टाल पर जाकर अपने सामान को लगाने लगती है और आप देखते हैं कि जब सबकुछ रेडी हो जाता है तो वहां पर काव्या और अनुपमा के पति और उसकी बेटी पहुंच जाते हैं और वह अपना स्टॉल ढूंढने लगते हैं और जब वह अपने स्टॉल पर पहुंचते हैं तो वह देखते हैं कि अनुपमा पहले ही वहां पर पहुंच चुकी होती है और अपने स्टॉल लगा रही होती है यह देखकर वह तीनों हैरान हो जाते हैं और काव्य नाराज होकर वहां से चली जाती है ।

Read Also:- Happy Raksha Bandhan Photos, Quotes

Advertisement
Happy Raksha Bandhan Wishes 2020

अनुपमा के पति भी उसके पीछे चले जाते हैं और उसे समझाने लगते हैं कि मुझे माफ कर दो मुझे इसके बारे में आईडिया नहीं था कि वह मेरे मना करने के बाद भी आ जाएगी और आगे से काव्या कहती है कि अगर दो मुंह से स्ट्रिक्टली मना करते तो वह नहीं आ सकती थी और वह कहती है कि अगर वह स्टॉल लगाना ही चाहते तो उसे लगाने देते तुमने मुझे बीच में क्यों बिच में क्यों घसीटा। और वह कहने लगती है कि अनुपमा के जन्मदिन वाले देने भी मेरी बहुत इंसल्ट होगी और वही आज हो रहा है और आगे से अनुपमा के पति उसे कहते हैं कि अगर तुमने यहां से जाना है तो तुम जा सकती हो और मैं यहां पर कोई भी तमाशा नहीं करना चाहता ।

फिर भी यह मेरी बेटी के लिए फनी फेयर है। आगे से काव्या कहती है कि नहीं मैं यहां से नहीं जाऊंगी मैं यहां रहकर तुम्हें यह याद दिला लूंगा कि तुम्हारी वजह से मेरी कितनी इंसल्ट हुई है दूसरी तरफ देखते हैं कि अनुपमा के स्टॉल पर जजेस और स्कूल टीचर आ जाते हैं और वह अनुपमा के खाने की तारीफ करने लगते हैं दूसरी तरफ आप देखते हैं कि अनुपमा की बेटी को उसकी स्कूल फ्रेंड चिढ़ाने लगती है कि उसकी मां इतने पुराने जमाने की है। इस तरह आप देखते हैं कि समर उसके पास आता है और वह कहता है ।

कि हमारी मामा बेस्ट मन में आए जो कि कुछ ना आते हुए भी हमारे लिए इतना कुछ करने की कोशिश कर रही है इस तरह मैं वहां उसकी बिना बात सुने चली जाती है। इसी तरह आप देखते हैं कि अनुपमा की स्टाल पर बहुत सारे बच्चे खाने के लिए आ जाते हैं और सभी को यह खाना बहुत पसंद आ जाता है दूसरी तरफ आता है रिजल्ट का टाइम स्कूल की प्रिंसिपल फन फेयर का रिजल्ट अनाउंस करती है और वह अनुपमा का नाम लेती है अनुपमा को विश्वास नहीं होता कि

Advertisement

वह उसका नाम है वह कह रही होती है कि किसी और का नाम होगा तभी स्कूल की प्रिंसिपल उसकी बेटी का नाम भी साथ में लेती है तब अनुपमा स्टेज पर जाती है और वह वहां जाकर कहती है कि मैं मेरे बच्चे और मेरे पति भी जहां पर है मैं उनको भी यहां पर बुलाना चाहती हूं। और वह कहती है कि मैं यह अवार्ड भी अपनी बेटी से लेना चाहती हूंइसी तरह टीचर उसे कुछ लाइन कहने के लिए कहती है और वह है कुछ लाइंस अपनी बेटी के लिए कहती है और वह कहती है

कि अगर मेरा बेटा समर मेरे साथ ना होता तो यह सब कुछ संभव नहीं था और यह कहकर व्यवहार से जाने लगती है तभी प्रिंसिपल अनुपमा के पति को भी कहती है कि वह भी अपनी पत्नी के लिए कुछ लाइन कहे तो वह अपनी पत्नी की पत्नी की तारीफ में कुछ लाइन बोलते हैं।पर तभी आप देखते हैं कि अनुपमा बहुत खुश हो जाती है और सभी लोग वहां से जाने लगते हैं इसी तरह आज का एपिसोड यहीं खत्म होता है ।

Anupama 21 July 2020 written update

कल के एपिसोड में आपको जाएगा कि अनुपमा और उसके घर वाले घर पहुंचते हैं तो अनुपमा के पति उस पर भड़क जाते हैं और कहते हैं कि तुमने यह सब कुछ इस अवार्ड के लिए किया है जो बजाय से सो रुपए में मिलते हैं यह सुन अनुपमा बहुत ही ज्यादा दुखी हो जाती है और दूसरी तरफ उसकी बेटी उसको सुनाने लगती है कि आप वहां पर क्यों आई मैंने काव्या को इस फन फेयर के लिए तैयार किया था यह सब कुछ आपको कल के एपिसोड में दिखाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *