Anupama 18 July 2020 Written Update

Anupama

Anupama 18 July 2020 Written Update:- अनुपमा के एपिसोड में आज दिखाया जाएगा की पाकी काव्या से कहती है कि वह उसकी मम्मा बनके उसके स्कूल के फंक्शन अवार्ड में वह पार्टिसिपेट करें खाना बनाने में लेकिन काव्या नहीं मानते फिर पा की के जिद करने पर काव्य काव्या मान जाती है यह देख कर उसके पापा बहुत खुश हो जाते हैं दूसरी तरफ आप देखते हैं कि अनुपमा यह सोच रही होती है कि वह इस अनशन अवार्ड में अपनी बेटी के लिए पार्टिसिपेट करेगी लेकिन उसके पति नहीं चाहते कि इस फंक्शन अवार्ड में अनुपमा पार्टिसिपेट करें वह काव्या को पार्टिसिपेट करने के लिए कहता है Anupama 18 July 2020 Written Update

तभी आप देखते हैं कि पाक की और उसके पापा और काव्या उसके स्कूल में जाते हैं और टीचर से कहते हैं कि पाकी की मम्मी की तबीयत ठीक नहीं है इसलिए वह इस अवॉर्ड में पार्टिसिपेट नहीं कर सकती है और इसकी जगह पर है काव्य पार्टिसिपेट करेंगे लेकिन अ टीचर नहीं मानती और वह कहती है कि वह इनकी जगह पार्टिसिपेट नहीं कर सकती लेकिन आप सभी के बार-बार कहने से टीचर मान जाती है कि काव्या इस फंक्शन वर्ड में अनुपमा की जगह पार्टिसिपेट कर सकती हैं लेकिन दूसरी तरफ अनुपमा खुश हो रही होती है कि वह इस फंक्शन वोट में पार्टिसिपेट करेगी और इसमें उसके ससुर जी और उसका बेटा समर उसका साथ दे रहे होते हैं और तभी अनुपमा ने भी वह फॉर्म फिल करने जाना होता है |

जो पाकी अपने पापा के साथ और काव्य के साथ फिल करने गई है तभी आप देखते हैं कि वह वहां से यह फॉर्म फिल करके चले जाते हैं और टीचर उन्हें पांच नंबर का स्टाल अलाउड करती हैं और कुछ देर बाद अनुपमा भी पाकी के स्कूल पहुंच जाती है और टीचर से कहती है कि वह पा की की मां है और वह इस फंक्शन अवार्ड में पार्टिसिपेट करना चाहती है और वह अपनी बेटी और पति को दोनों को खुश देखना चाहती है तभी आप देखते हैं कि अनुपमा ने जो स्टोर लगानी है | Anupama 18 July Written Update

Advertisement

Read More:- Yeh Rishta Hai pyar Ke 18 July 2020 | Written Update

वह उसका सैंपल लेकर आती है और टीचर को खिलाती है कि वह कल के अवार्ड में यह सब कुछ बनाना चाहती है तो जब वे टीचर यह खाना खाती है तो वह इस खाने की तारीफ करती है और कहती है कि यह खाना तो सचमुच बहुत ही स्वादिष्ट है और वह सोचने लगती है कि पाकी ने तो मुझे झूठ बोला था कि उनकी मां की तबीयत खराब है लेकिन यह तो सही है और सोचने लगी कि चलो पाकी ने तो झूठ बोला ही लेकिन उसके पति ने भी तू झूठ बोला और अपनी पत्नी की जगह वह किसी और को क्यों दे रहे हैं और वह कहती है कि मैं ऐसा नहीं होने दूंगी मैं गलत के साथ गलत ही हूं और वह अनुपमा पोस्टर लगाने की इजाजत दे देती है और उसे भी पांच नंबर स्टोलर लाउड करती है |

इसी तरह आप देखते हैं कि दूसरी तरफ अनुपमा के साथ सत्संग से जल्दी घर वापस आ जाते हैं और उसके ससुर जी हैरान रह जाते हैं कि वह जल्दी कैसे आ गई लेकिन फिर भी वह बात को संभाल लेते हैं और जब अनुपमा के बारे में पूछती हैं तो वह कुछ नहीं बोलते उधर से अनुपमा आ जाती है और उसकी सांस उसको कहने लगती है कि तुम मायके गई थी तो जब वह यह वह नहीं लगती है कि वह मायके नहीं गई थी तो उसके ससुर जी बोलते हैं कि हां यह मायके गई थी क्योंकि यह अपने जन्मदिन पर भी नहीं जा पाई थी इसलिए अब चली गई और यह कहकर उसके ससुर जी अपनी पत्नी से कहते हैं कि वह अंदर चलकर ऐसी पर बैठ जाए बाहर बहुत गर्मी है अब देखते हैं कि अनुपमा घर में अंतर करते ही रसोई में चली जाती है और सभी काम करने लगती है और सोचने लगती है

Advertisement

कि कल मुझे जल्दी उठना होगा क्योंकि बाकी के स्कूल भी जाना है इसी तरह देखते हैं कि वह सोने के समय अलार्म लगा लेती है लेकिन मैं सुबह वह अलार्म से पहले ही उठ जाती है लेकिन उधर से अनुपमा के पति भी जाग जाते हैं और वह उसे कहते हैं कि उसकी कमर में दर्द हो रहा है और वह उसकी मालिश करने लगती है |

लेकिन उस ने खाना बनाना होता है लेकिन उसे देरी हो रही होती है उधर संभर अपनी मां का वेट कर रहा होता है कि मां अभी तक खाना बनाने के लिए आई क्यों नहीं है तो तभी आप देखते हैं कि अनुपमा भागती भागती समर के पास चली जाती है और खाना बनाने के लिए सभी सामान इकट्ठा करने लगती है और कुछ ही देर में वह सारा खाना रेडी कर लेती है और तभी समर इस मांग को ले जाने के लिए गाड़ी का इंतजाम करने चला जाता है |

जब वह वहां से जाता है तो उधर से अनुपमा के पति आ जाते हैं और वह यह देखकर हैरान हो जाते हैं और यह देखते ही वह अपने रुम में चले जाते हैं और अनुपमा भी उसके पीछे चली जाती है और उससे कहती है कि वे यह सब कुछ अपनी बेटी के लिए कर रही है लेकिन हम उसके पति कहते हैं कि उसे यह सब कुछ करने की कोई जरूरत नहीं है |

उसके पापा है उस के फंक्शन अटेंड करने के लिए तुम वहां जाओगी तो बाकी को अच्छा नहीं लगेगा उसको तुम्हें मां कहने में भी शर्म आएगी वहां पर और वह यह सारा खाना अनाथ आश्रम में देने के लिए कह देते हैं तभी आप देखते हैं कि अनुपमा भी मान जाती है कि उसे यह सब कुछ नहीं करना चाहिए या इसके लायक नहीं है और तभी आप देखते हैं कि फिर से अनुपमा घर के कामों में व्यस्त हो जाती है और जब उसके ससुर और उसका बेटा उससे पूछते हैं कि आप अभी तक रेडी क्यों नहीं हुई हमने 9:00 बजे तक पाकी के स्कूल पहुंचना है |

और आगे से अनुपमा कहती है कि नहीं मैं स्कूल नहीं जा रही हूं और वह समर से कहती है कि वह खाना अनाथ आश्रम में दे दे और आगे से समर कहता है कि ऐसा क्यों हो तो वह कहती है कि तुम्हारे पापा कह रहे हैं कि मुझे यह फंक्शन अटेंड नहीं करना चाहिए और वह यह कहकर रसोई में चली जाती है तभी समर उसके पीछे पीछे जाता है और मैं उसे कहता है कि आपको अपने आप को प्रूफ करने का यही मौका है आपको यह मौका नहीं छोड़ना चाहिए और समर अपनी मां को बहुत समझाता है और वह मान जाती है कि वह यह फंक्शन अवार्ड जरूर अटेंड करेगी और अपनी बेटी के लिए यह अवार्ड जरूर जीतेगी इसी तरह आज का एपिसोड जहां खत्म होता है |

Anupama 21 July 2020 Written Update:-

कल के एपिसोड में आपको दिखाया जाएगा कि अनुपमा स्कूल में स्टॉल लगाने के लिए चली जाती है और तभी आप देखते हैं कि पाक की अपने पापा और काव्या के साथ स्कूल पहुंच जाती है क्योंकि काव्य ने भी पांच नंबर पर स्टाल लगानी होती है जब अनुपमा के पति अनुपमा को उस स्टॉल पर देखते हैं तो वह हैरान हो जाते हैं, इसी तरह यह सब कुछ आपको कल के एपिसोड में दिखाया जाएगा |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *